Hari Hari Odhani Lyrics (हरी-हरी ओढ़नी) Song By Pawan Singh

Hari Hari Odhani Lyrics Song By Pawan Singh And Anupama Yadav: हरी – हरी ओढ़नी लोकगीत यूटूब चैनल को मौजूद है. यदि आप lyrics पढना चाहते है तो hos share के वेबसाइट से लिरिक्स रीड आउट कर सकते है.

आज के समय में खेसारी लाल यादव के बाद Pawan Singh का नंबर आता है. Khesari lal yadav के बाद पवन का ही नाम सुनने को मिलता है. वही खेसारी की बात करें तो इस दुनियां में वो भोजपुरी का ब्रांड बन चुके है. इस लेख में Hari Hari Odhani Lyrics (हरी-हरी ओढ़नी) गीत को पढ़िए.

Hari Hari Odhani Lyrics Song

 

अरे ओढ़नी | ओढ़नी |
अरे ओढ़नी | ओढ़नी |
अरे |
अरे कहा से आवतारु हो
आ हई दागी कईसन बा
अरे
अरे धर स रे
धर धर धर

काहे पीछा परल बाड़
हमरे प मरल बाड़
माठा फूंकी पियतार
दूध से का जरल बाड़
अरे का हो
ऐसा नहीं है
तो
केकर जगवलु ह भगिया गोरी
कहाँ बुतवलु ह अगिया गोरी |

त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल
कवना बगिया ऐ गोरी
त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल
कवना बगिया ऐ गोरी
अरे काहे के बताई |
ओढ़नी..
अरे ओढ़नी ओढ़नी

दिन रहे कवन ना देखलु कलेण्डर
कईलू बागानी में जवानी सरेंडर |
के लेता टेंडर हो पीके बलेंडर
अईसे तू ना मनब,
बात भीतर के का जनब |
छोटे में खोटेलु सगिया गोरी
एहि से लागल बा दगिया गोरी

त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल
कवना बगिया ऐ गोरी
अच्छा
त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल |
कवना बगिया ऐ गोरी |
अरे ओढ़नी ओढ़नी |

आशु प्रियांशु से देखावेलु तू अकड़,
चलता तोहार पवनवे से चक्कर |
चलता चक्कर हो पियेलु शक्कर..
भेद जनि खोल हो
चाही का बोल हो
पुअरे के बुझलु पलंगिया गोरी,
बाटे लेटाईल अलंगिया गोरी |

त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल,
कवना बगिया ऐ गोरी |
त हरी हरी ओढ़नी तोहार छूटल |
कवना बगिया ऐ गोरी |
बाद में बताउंगी
अरे ओढ़नी ओढ़नी |

 

READ MORE

 

Your Query

1- bhojpuri song lyrics

2- pawan singh song lyrics

3- hari hari odhani song

4- top bhojpuri song

5- bhojpuri hits

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top